Annual Calendar for Events in Dr Ram Dayal Munda Tribal Welfare Research Institute

पूरे वर्ष जनजातियों के लिए होंगे कई कार्यक्रम

डॉ राम दयाल मुंडा जनजातीय शोध संस्थान (टीआरआइ) मोरहाबादी ने पहली बार वर्षभर के आयोजन की तैयारी की है. इसके तहत विभिन्न दिन व दिवसों पर आयोजित होनेवाले कार्यक्रमों का वार्षिक कैलेंडर बनाया गया है. इसकी शुरुआत भगवान बिरसा मुंडा के शहादत दिवस (नौ जून) से होगी. संस्थान की निदेशक सुचित्रा सिन्हा ने इस संबंध में एक प्रस्ताव कल्याण विभाग को भेजा था, जिसे मंजूरी मिल गयी है.

वर्ष भर के कार्यक्रम
9 जून (बिरसा मुंडा शहादत दिवस) : जनजातियों के सामाजिक, सांस्कृतिक व आर्थिक पहलू पर एक दिवसीय सेमिनार, स्थल-संस्थान सभागार रांची.

30 जून (हूल दिवस) : संविधान में जनजातियों के सुरक्षात्मक अधिकार पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल- संस्थान सभागार.

20 जुलाई : संविधान में जनजातियों के सुरक्षात्मक अधिकार पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल- दुमका.

21 जुलाई : वन अधिकार अधिनियम पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल-दुमका.

8-9 अगस्त (विश्व आदिवासी दिवस) : जनजातीय स्कूली बच्चों व प्रोफेशनल के लिए पेंटिंग प्रतियोगिता, स्थल-संस्थान सभागार रांची.

23 अगस्त (डॉ रामदयाल मुंडा जयंती) : जनजातीय नृत्यों का राज्य स्तरीय आयोजन, स्थल-मोरहाबादी मैदान रांची.

30सितंबर :जनजातियों के सामाजिक, सांस्कृतिक व आर्थिक पहलुअों पर आधारित एक दिवसीय सेमिनार, स्थल – दुमका.

25 अक्तूबर:जनजातियों के सुरक्षात्मक अधिकार पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल-कोल्हान प्रमंडल चाईबासा.

26 अक्तूबर : वन अधिकार अधिनियम पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल -कोल्हान प्रमंडल चाईबासा.

15 नवंबर (भगवान बिरसा जयंती):अंतरराज्यीय जन जातीय सम्मेलन, स्थल-संस्थान सभागार रांची.

9 दिसंबर: वन अधिकार अधिनियम पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल- संस्थान सभागार रांची.

10 दिसंबर: कोल्हान के प्रतिभागियों के लिए जनजातियों के सामाजिक, सांस्कृतिक व आर्थिक पहलुअों पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल-संस्थान सभागार रांची.

10 जनवरी (2017): संविधान में जनजातियों के सुरक्षात्मक अधिकार पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल-पलामू प्रमंडल.

11 जनवरी : वन अधिकार अधिनियम पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल- पलामू प्रमंडल.

15 फरवरी:जनजातियों के सुरक्षात्मक अधिकार पर कार्यशाला, स्थल-हजारीबाग.

16 फरवरी : वन अधिकार अधिनियम पर एक दिवसीय कार्यशाला सह प्रशिक्षण, स्थल- हजारीबाग.

7 मार्च : पलामू प्रमंडल के प्रतिभागियों के लिए जनजातियों के सामाजिक, सांस्कृतिक व आर्थिक पहलुअों पर एक दिवसीय कार्यशाला, स्थल- संस्थान सभागर रांची.